Earn 60 lakh rupees annually by mushroom farming in a small room

मशरूम

छोटे से कमरे में इसकी खेती करके कमाएं सालाना 60 लाख रुपये !

जलवायु परिवर्तन की वजह से कृषि क्षेत्र में अमूलचूल परिवर्तन हुआ हैं. इसके वजह से खेती करने का तरीका भी बदला है. इन सभी के मद्देनजर देश के जो सफल किसान है उन्होने पारंपरिक तरीके से खेती करना छोड़ आधुनिक तरीके से खेती करना शुरू कर दिया हैं. नतीजतन उन्हें अच्छा मुनाफा हो रहा है. कुछ इसी तरह के परवीन भी सफल किसान है. परवीन ऐसे किसान है जो जो एक 10×10 के कमरे से 60 लाख रूपये सालाना आमदनी कर रहे हैं। दरअसल परवीन ने मशरूम की कीड़ा जड़ी (Cordyceps Sinensis) किस्म की खेती शुरू की थी और समय के साथ धीरे – धीरे मशरूम की खेती के लिए बहुत मशहूर हो गए हैं.

परवीन यह काम वह गत एक साल से कर रहे हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि मशरूम की कीड़ा जड़ी किस्म विश्व की सबसे महंगी मशरूम की किस्मों में से एक है. मीडिया में आई खबरों के मुताबिक इस काम को लेकर प्रवीन का कहना है कि वह एक कमरे में मशरूम की कीड़ा जड़ी किस्म की खेती कर रहे हैं और भारी मुनाफा कमा रहे हैं. साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि कोई भी किसान चाहे तो सिर्फ एक छोटे से कमरे में मशरूम की इस किस्म की खेती सीमित संसाधन में शुरू कर सकता है. गौरतलब है परवीन ने एक लैब बना रखी है जिसमे वह मशरूम की अलग – अलग क़िस्मों का उत्पादन कर रहे हैं.

परवीन के मुताबिक, अगर कोई किसान इस लैब को कम से कम 10×10 के कमरे से शुरू करना चाहता है तो इसमें तकरीबन 7 से 8 लाख रूपये लग जाता है. परवीन के मुताबिक इस लैब को बनाने के बाद किसान 3 महीने में एक बार यानी कि एक वर्ष में चार बार मशरूम की फसल आसानी से ले सकते है. 3 महीने में आप 10×10 से लगभग 5 किलो फसल ले सकते है और इसकी बाजार में कीमत औसतन 1.5 से 2 लाख रूपये प्रति किलो है. ऐसे में किसान एक छोटे से कमरे में मशरूम की इस किस्म की खेती कर भारी मुनाफा कमा सकते हैं.

Earn 60 lakh rupees annually by mushroom farming in a small room

One thought on “Earn 60 lakh rupees annually by mushroom farming in a small room

  1. how can you hepl us, i am interested in all type of mushroom farming, please send your number or call me Nitin Kumbhar – 8180091234

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top