Leaving jobs, cultivating kiwi, earning millions of rupees

कीवी

नौकरी छोड़कर कर रहे है कीवी की खेती, हो रहा लाखों रूपए का मुनाफा

ऐसा जरूरी नहीं है कि आप जिंदगी भर नौकरी करके ही लाखों रूपये कमाएं और बेहतर जीवन व्यतीत करें. अगर आपके मन में काम करने की इच्छाशक्ति जागृत हो तो आप आसानी से खेती करके भी लाखों रूपये भी बचा सकते है. यहां हिमाचल के सोलन में रहने वाले शिल्ली गांव के मनदीप वर्मा ने भी खेती करने की ठानी है. आज मनदीप मैनेजर की नौकरी को छोड़कर बंजर जमीन को हरा भरा करने में जुट गए है. वह बीघा खेत में आज कीवी की खेती कर रहे है और उसके सहारे लाखों रूपये कमा रहे है.

बेहतर तरीके से तैयार कर रहे नर्सरी

यहां के शिल्ली गांव में तैयार कीवी का स्वाद पूरा देश चख रहा है. यहां पर जैविक खेती से बेहतर क्वालिटी की कीवी को तैयार कर देशभर में मिसाल बन रहे किसान मनदीप वर्मा आज औरो के लिए भी प्रेरणा का स्त्रोत बन गए है. वह आज न केवल कीवी का उत्पादन बल्कि इसकी नर्सरी भी तैयार करके काफी बेहतर तरीके से मुनाफा कमा रहे है. अब वह सेब के 500 पौधे लगाकर सेब के उत्पादन में भी आगे बढ़ रहे है.

वर्ष 2014 से कर रहे खेती

मनदीप ने बताया कि वर्ष 2014 में गुरूग्राम स्थित विप्रो कंपनी में वह मैनेजर के पद पर कार्यरत थे. उनकी पत्नी भी इस कंपनी में सचिव के पद पर काम करती थी. इस दौरान उनके मन में ख्याल आया कि घर में वह पुश्तैनी जमीन बंजर बनती जा रही है. बाद में उन्होंने नौकरी छोड़ कीवी उत्पादन का कार्य किया है. आज वह बीघा में कीवी की खेती कर रहे है. इस वर्ष पांच से छह टन कीवी उत्पादन की उम्मीद है. आज वह आर्गेनिक खेती कर रहे है.

ऑनलाइन ही बिक जाता है उत्पाद सारा

मनदीप ने बताया कि वह बगीचे में तैयार फल को बेचने के लिए बाजार में नहीं जाते है अपितु उनका उत्पादन घर से ही बिक जाता है. इसके लिए उन्होंने बेवसाईट को बनाया है. उसमें ऑनलाइन कीवी को बुक करके सप्लाई कर देते है. इसकी देशभर में सप्लाई होती है. यहां पर सोलन में कीवी की अच्छी खपत होती है. डिब्बे पर यह जाकारी दी जाती है कि कब फूल टूटा और कब डिब्बा इसमें कीवी को भरा गया. इसके एक डिब्बे में एक किलो कीवी पैक होती है. इसके दाम 350 रूपये प्रति बॉक्स है. इससे उनको लाखों की कमाई प्राप्त हो रही है.

Leaving jobs, cultivating kiwi, earning millions of rupees

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to top